तिलक क्यों लगाना चाहिए?

तिलक का हिंदू धर्म में बहुत महत्व है, प्राचीन काल से ही तिलक की परंपरा रही है और इसका पालन अभी भी किया जा रहा है।

तिलक का महत्व

तिलक परंपरा से आध्यात्म में लगाव होता है, इसे लगाने से कई फायदे मिलते हैं। रोज तिलक लगाने से मिलने वाले लाभ के बारे में बताएंगे।

आध्यात्म से होता है लगाव

पूजा के बाद तिलक लगाने की परंपरा है, तिलक लगाने से आध्यात्म में रुचि बढ़ती है। इसके साथ ही दिमाग शांत होता है। इसके अलावा तिलक लगाने से दिव्य ऊर्जाओं के साथ संपर्क स्थापित करने में मदद मिलती है।

क्यों लगाया जाता है तिलक?

तिलक कई प्रकार से लगाया जाता है, कुछ लोग सिंदूर लगाते हैं तो वहीं कुछ लोग हल्दी, चंदन आदि का टीका लगाते हैं।

कई प्रकार के तिलक

तिलक लगाने से आत्मविश्वास में वृद्धि होती है, इसके अलावा तिलक लगाने से फोकस बढ़ता है जिससे वर्क प्रोडक्टिविटी बढ़ती है।

आत्मविश्वास में होती है वृद्धि

चंदन का तिलक लगाने से दिमाग शांत रहता है, रोजाना तिलक लगाने से तनाव कम होता है और स्ट्रेस से राहत मिलती है।

चंदन का तिलक लगाने से मिलती है दिमाग को ठंडक

वहीं हल्दी का तिलक लगाने से स्किन में निखार आता है, इसके अलावा यह तिलक लगाने से आत्मविश्वास में बढ़ोतरी होती है और कई तरह की समस्याओं से राहत मिलती है।

स्किन में आता है निखार

तिलक लगाने से बहुत लाभ मिलते हैं, धर्म और आध्यात्म से जुड़ी ऐसी ही अन्य खबरों के लिए पढ़ते रहें Jagran.com