इलेक्ट्रिक वाहनों पर 500 करोड़ की नई स्कीम आज से लागू! कितनी मिलेगी सब्सिडी?

बीते कल यानी 31 मार्च को इलेक्ट्रिक वाहनों को प्रोत्साहित करने वाले FAME सब्सिडी का दूसरा चरण समाप्त हो गया. अब आज से सरकार द्वारा लॉन्च की गई नई EV पॉलिसी लागू होगी.

हाल ही में केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने FAMI-II स्कीम को रिप्लेस करते हुए नई इलेक्ट्रिक मोबिलिटी प्रमोशन स्कीम 2024 (EMPS 2024) का ऐलान किया था.

इस नई स्कीम के तहत इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर और थ्री-व्हीलर वाहनों की खरीदारी को बढ़ावा दिया जाएगा, जिसके लिए 500 करोड़ रुपये आउटले तैयार किया गया है.

बता दें कि, ये एक लिमिटेड पीरियड स्कीम है जो कि केवल 4 महीनों तक के लिए वैलिड रहेगा. इसका लाभ आम ग्राहकों को 1 अप्रैल, 2024 से 31 जुलाई, 2024 तक मिलेगा.

चार महीने की अवधि के लिए 500 करोड़ रुपये के कुल फंड के साथ, इस योजना का लक्ष्य इलेक्ट्रिक दोपहिया और तीन-पहिया वाहनों को तेजी से अपनाने के लिए प्रोत्साहित करना है.

नई EMPS 2024 को भारी उद्योग मंत्रालय द्वारा लॉन्च किया गया है, इस प्रोग्राम के तहत 493.55 करोड़ रुपये इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए बतौर सब्सिडी आवंटित किए जाएंगे.

जबकि अन्य 6.45 करोड़ रुपये का इस्तेमाल सूचना, शिक्षा और कम्यूनिकेशन एक्टिविटी पर प्रोजेक्ट मैनेजमेंट एजेंसियों के लिए खर्च किया जाएगा.

इस योजना के तहज 3,33,387 यूनिट्स EV को सपोर्ट किया जाएगा. जिसमें 3,33,387 यूनिट्स इलेक्ट्रिक दोपहिया, 38,828 यूनिट्स इलेक्ट्रिक थ्री-व्हीलर और 25,238 यूनिट्स L5 कैटेगरी के वाहन शामिल हैं.

अब सवाल ये है कि, यदि आप इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर खरीदते हैं तो आपको कितनी सब्सिडी मिलेगी. इस बारे में एथर एनर्जी के CBO रवनीत फोकेला ने हाल ही में आजतक से बात की थी

रवनीत ने कहा कि, EMPS और फेम-2 में सबसे बड़ा अंतर ये है कि, FAME में अधिकतम सब्सिडी प्रति वाहन 22,500 रुपये तक संभव थी. लेकिन नई EMPS पॉलिसी में अधिकतम सब्सिडी 10,000 रुपये है.

यानी देखा जाए तो सब्सिडी लगभग आधी घट गई है. लेकिन लांग टर्म इसका एक फायदा ये भी है कि, धीमे-धीमे आप वाहन के ओरिजनल कीमत से लोगों को अवगत भी करा सकेंगे.