रमजान में रोजेदारों को भूलकर भी नहीं करनी चाहिए ये 3 गलतियां, वरना...

रमजान के पवित्र महीने में रोजेदारों को कुछ चीजों का ध्यान रखना काफी जरूरी है.

अगर रोजेदार इन चीजों का ध्यान नहीं रखते हैं तो रोजा टूट सकता है और साथ ही गुनाह भी मिल सकता है.

हालांकि, झूठ बोलना कभी भी ठीक नहीं है लेकिन खासतौर पर रोजे के दौरान इससे बचाव जरूर करें.

अगर आपने रोजा रखा है तो छोटा या बड़ा किसी भी तरह के झूठ से बचाव करना ही बेहतर है.

आप रोजेदार हैं तो किसी से मजाक में भी मारपीट करना गलत है. वहीं गुस्से में तो भूलकर ऐसी गलती न करें.

रोजा रखने वाले लोग गुस्से में अगर मारपीट करते हैं तो यह अच्छा नहीं माना जाता है. इस्लाम में ऐसा करना गलत कहा गया है.

वहीं जो लोग महिलाओं को गलत निगाहों से देखते हैं उनका रोजा तो कभी मान्य नहीं हो सकता है.

वहीं रोजों के दौरान शराब और सिगरेट से भी बचाव करना चाहिए. यह इस्लाम में ठीक नहीं माना गया है.