12 सूर्य नमस्कार रोज करने से क्या होता है?

अगर आप स्वस्थ रहना चाहते हैं और योग पर विश्वास करते हैं तो आप रोज सूर्य नमस्कार करें। सूर्य नमस्कार 12 योगासन से मिलकर बना है।

12 योगासन से मिलकर बना सूर्य नमस्कार अगर आप 12 बार करेंगे तो आपको अनेक फायदे हो सकते हैं। चलिए जानते हैं 12 सूर्य नमस्कार रोज करने से क्या होता है?

आसनों से पेट की मांसपेशी मजबूत होती है और सूर्य नमस्कार रेगुलर किया जाए, तो पेट की चर्बी कम होती है।

सूर्य नमस्कार के दौरान उदर के अंगों की स्ट्रेचिंग होती है जिससे पाचन तंत्र सुधार आता है। इससे कब्ज, अपच या पेट में जलन की शिकायत कम होती है।

सूर्य नमस्कार से शरीर में लचीलापन भी आता है। योग के ये 12 आसन आपके शरीर में कई चमत्कारी फायदे लाते हैं।

अगर किसी महिला के पीरियड टाइम से नहीं आते या फिर फ्लो ठीक नहीं रहता है तो सूर्य नमस्कार से ये परेशानी भी हल होती है।

सूर्य नमस्कार के दौरान स्ट्रेचिंग से मांसपेशी और लिगामेंट के साथ रीढ़ की हड्डी मजबूत होती है और कमर लचीली होती है।

इसके अलावा सूर्य नमस्कार करने से आप जवां भी नजर आते हैं। सूर्य नमस्कार करने से चेहरे पर झुर्रियां देर से आती हैं और स्किन में ग्लो आता है।