Mahashivratri : प्रदोष व्रत और महाशिवरात्रि का शुभ संयोग 8 मार्च को, शुभ फल के लिए शिवलिंग पर अर्पित करें ये चीजें….

Mahashivratri : प्रदोष व्रत और महाशिवरात्रि का शुभ संयोग 8 मार्च को, शुभ फल के लिए शिवलिंग पर अर्पित करें ये चीजें….

Mahashivratri : सनातन धर्म के अनुसार प्रदोष और शिवरात्रि का संगम मानव जीवन में सुख और शांति का अमृत लेकर आता है। : हिंदू धर्म में प्रदोष व्रत और महाशिवरात्रि का बहुत महत्व है।

Mahashivratri
Mahashivratri

Mahashivratri : हिंदू धर्म में प्रदोष व्रत और महाशिवरात्रि का बहुत महत्व है। हर महीने कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि को प्रदोष व्रत और चतुर्दशी तिथि को शिवरात्रि आती है। फाल्गुन माह की शिवरात्रि का सबसे अधिक महत्व है। इस दिन माता पार्वती और भगवान शिव का विवाह हुआ था।

Mahashivratri : प्रदोष व्रत और महाशिवरात्रि पर भगवान शिव की विशेष पूजा की जाती है। फाल्गुन माह में प्रदोष व्रत और शिवरात्रि एक ही दिन यानी 8 मार्च को है. प्रदोष व्रत उदयातिथि के अनुसार किया जाता है और शिवरात्रि में रात्रि पूजा का महत्व होता है, जिसके कारण प्रदोष व्रत और शिवरात्रि एक ही दिन पड़ रही है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार शिवरात्रि और प्रदोष व्रत का संयोग बहुत ही शुभ और विशेष होता है।

Mahashivratri
Mahashivratri

सनातन धर्म के अनुसार प्रदोष और शिवरात्रि का संगम मानव जीवन में सुख और शांति का अमृत लेकर आता है। इस शुभ दिन पर पति-पत्नी को गृहस्थ जीवन में प्रेम, सद्भाव, सद्भाव और सद्भाव के लिए भगवान शिव को 5 बेलपत्र चढ़ाने चाहिए।

यह भी पढ़ें : Women Day 2024 : कब है महिला दिवस? क्यों मनाया जाता है स्त्रियों से जुड़ा ये दिन…

पूजा विधि

सुबह जल्दी उठकर स्नान करें.
नहाने के बाद साफ कपड़े पहनें।
घर के मंदिर में दीपक जलाएं.
यदि संभव हो तो उपवास करें.
भगवान भोलेनाथ का गंगाजल से अभिषेक करें।
भगवान भोलेनाथ को पुष्प अर्पित करें।
इस दिन भोलेनाथ के साथ माता पार्वती और भगवान गणेश की भी पूजा करें। किसी भी शुभ कार्य को करने से पहले भगवान गणेश की पूजा की जाती है।
भगवान शिव को भोग लगाएं. ध्यान रखें कि भगवान को केवल पवित्र चीजें ही अर्पित की जाती हैं।
भगवान शिव की पूजा करें.
इस दिन जितना हो सके भगवान का ध्यान करें।

Mahashivratri
Mahashivratri

इस राशि के जातक अगले 7 दिनों तक खुश रहेंगे, राजा की तरह जीवन व्यतीत करेंगे, धन में वृद्धि होगी।

भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए शिवलिंग पर ये चीजें चढ़ाएं

पानी
भगवान शिव को प्रसन्न करने का सबसे आसान तरीका है शिवलिंग पर जल चढ़ाना।

दूध
शिवलिंग पर दूध चढ़ाने से भगवान शिव प्रसन्न होते हैं।

दही

शिवलिंग पर दही भी चढ़ाना चाहिए। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार ऐसा करने से जीवन में परिपक्वता और स्थिरता आती है।

देशी घी
शिवलिंग पर देसी घी लगाने से भगवान शिव की कृपा प्राप्त होती है।

चंदन
शिवलिंग पर चंदन अवश्य चढ़ाएं।

Mahashivratri
Mahashivratri

महाशिवरात्रि पूजा सामग्री सूची
फूल, पांच फल, पांच सूखे मेवे, रत्न, सोना, चांदी, दक्षिणा, पूजा के बर्तन, कुशासन, दही, शुद्ध देसी घी, शहद, गंगा जल, पवित्र जल, पांच रस, इत्र, गंध, रोली, मौली जनोई, पांच मिष्ठान, बिल्वपत्र, धतूरा, भांग, बेर, आम की कली, जौ की बालियां, तुलसी के पत्ते, मंदार का फूल, गाय का कच्चा दूध, ईख का रस, कपूर, धूप, दीपक, कपास, मालागिरी, चंदन, शिव और माता पार्वती का श्रृंगार सामग्री आदि।

more article : Google ने भारत के ये 10 ऐप्स प्ले स्टोर से हटाए! जानें वजह….

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *