अगर आप की नोकरी में है अवरोध, तो आज ही कर ले इन वास्तु दोष को दूर, फिर देखे कैसे होता है चमत्कार

अगर आप की नोकरी में है अवरोध, तो आज ही कर ले इन वास्तु दोष को दूर, फिर देखे कैसे होता है चमत्कार

वास्तु शास्त्र: कभी-कभी हम जीवन में कड़ी मेहनत करते हैं लेकिन हमें उसके अनुसार सफलता नहीं मिलती है। जिससे हम अपने जीवन में बहुत दुखी रहते हैं। अगर मेहनत के बाद भी सफलता नहीं मिलती है तो घर में दोष आ सकता है।

इसलिए हमें अपना घर वस्तु के अनुसार बनाना चाहिए। ऐसा नहीं करने पर हमें कई मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। ऐसे में नौकरी में मेहनत करने के बाद भी तरक्की नहीं होती और नौकरी मिलने में दिक्कत होती है. तो आज हम आपको बताएंगे कि ऐसे कौन से कारण हैं जिनकी वजह से नौकरी में परेशानी हो रही है।

यह बात बन जाती है गलती और नौकरी में परेशानी का कारण: वास्तुशास्त्र के अनुसार पश्चिम दिशा में सोने से कई तरह की समस्याएं हो सकती हैं। इस दिशा के दूषित होने का मतलब है कि शनि पीड़ित है। जिससे कार्य में कठिनाई होती है।

वास्तुशास्त्र के अनुसार घर में कभी भी बोन्साई और कांटेदार पौधे नहीं लगाने चाहिए, इससे घर पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है और नौकरी में तरक्की नहीं होती है। वास्तुशास्त्र के अनुसार यदि प्रवेश द्वार की खिड़कियाँ टूट जाती हैं, तो परिवार में मानसिक अशांति रहेगी। घर के किसी सदस्य को नौकरी में प्रमोशन नहीं मिलेगा।

वास्तु के अनुसार पश्चिम दिशा में सीढ़ियां, बगीचा आदि भी बनाया जा सकता है, लेकिन पश्चिम दिशा में सोने से कई तरह की परेशानी होती है। यदि यह दिशा दूषित हो तो इसका अर्थ है कि इस दिशा में स्तंभ छिद्र, छाया छिद्र आदि हो सकते हैं। यदि पश्चिम दिशा में दोष हो या कुंडली में शनि पीड़ित हो तो नौकरी में परेशानी होती है।

वास्तुशास्त्र के अनुसार घर की उत्तर दिशा में बड़ा शीशा लगाएं। जिसमें आपका पूरा शरीर देखा जा सकता है। ऐसा न करने पर आपके प्रमोशन में बाधा आएगी। घर के उत्तर-पूर्वी हिस्से में भारी मूर्तियां नहीं रखनी चाहिए, क्योंकि इससे घर में नकारात्मक ऊर्जा फैलती है जो हमारे काम की प्रगति को प्रभावित करती है। वास्तु के अनुसार घर की उत्तर-पश्चिम दिशा में अंधेरा नहीं होना चाहिए। इस दिशा का संबंध धन से है। जिसका सीधा असर नौकरी पर पड़ेगा।

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *