श्मशान घाट से लौटते समय करें ये छोटा सा कार्य, सभी परेशानियों से होगी मुक्ति

श्मशान घाट से लौटते समय करें ये छोटा सा कार्य, सभी परेशानियों से होगी मुक्ति

लाल किताब का उपाय किसी तंत्र, मंत्र या जादू टोना से संबंधित नहीं है। इसका समाधान सरल, सटीक और व्यावहारिक माना जाता है। ये परंपरा से व्युत्पन्न उपाय हैं। कब्रिस्तान का नाम सुनते ही लोग समझ जाते हैं कि यह तांत्रिक कार्य की बात होगी, लेकिन ऐसा नहीं है। दूसरा, कुछ लोग लाल किताब के उपाय को ‘टोटका’ कहते हैं। वास्तव में, जादू टोना का उद्देश्य केवल बुराई करना है, जबकि जादू टोना का उद्देश्य अच्छा करना है।

अर्थात्, जादू टोना उपचार प्राप्त करने का गलत तरीका है और जादू चिकित्सा प्राप्त करने का पवित्र तरीका है। लेकिन लाल किताब के उपाय को टोटका कहना उचित नहीं होगा, क्योंकि इसका उपाय केवल आपके ग्रहों और नक्षत्रों के उपचार के लिए है न कि किसी काम के लिए।

कुंडली में अष्टम भाव या ग्रह को ठीक करने का यही एक मात्र उपाय है। आठवें भाव को मृत्यु का मूल्य कहा जाता है। लाल किताब में प्रत्येक मूल्य का अपना महत्व है, क्योंकि लाल किताब के अनुसार दसवां भाव या खानू कार्यालय का स्थान है। सातवां घर एक शांत जगह है। नौवां स्थान धर्मस्थान है। इसी प्रकार अष्टम भाव को भी दाह संस्कार का स्थान माना गया है।

यदि किसी व्यक्ति पर किसी प्रकार का संकट आता है तो छठा और आठवां घर और उसके ग्रह भूमिका निभाते हैं। इसलिए कभी-कभी कुछ चीजों को कब्रिस्तान में दफनाने के लिए कहा जाता है या कोई अन्य उपाय दिया जाता है। 3 उपाय हैं, लेकिन लाल किताब विशेषज्ञ से पूछने के बाद ही। पाठक अपने विवेक का प्रयोग करें।

उपाय: यदि आप एक के बाद एक त्रासदी से जूझ रहे हैं, एक या दूसरे संकट से घिरे हुए हैं, तो किसी के अंतिम संस्कार में कब्रिस्तान से वापस आएं, कुछ सिक्के वापस फेंक दें। घर लौटने के बाद अच्छे से नहा लें। ऐसा कहा जाता है कि यह उपाय अष्टम भाव के ग्रहों को शांत करता है,

वहीं इस उपाय से अचानक दैवीय सहयोग मिलेगा और बाधाएं तुरंत दूर हो जाएंगी। यदि कोई लाइलाज बीमारी हो और दवा काम करना बंद कर दे तो रात के समय रोगी के सिर के पास तांबे का सिक्का रखें। सुबह उस सिक्के को कब्रिस्तान में फेंक दें। ऐसा कहा जाता है कि यह शरीर पर दवा के प्रभाव का कारण बनता है।

कई बार चंद्रमा का अशुभ होना भी व्यक्ति के लिए परेशानी का कारण बनता है। इसलिए कहा जाता है कि मिट्टी के बर्तन में शमशान का पानी लाकर उसमें चांदी का चौकोर टुकड़ा रख कर घर की पूर्व दिशा में इस तरह रखें कि उसमें बाधा न आए। ऐसा करने से आपको आर्थिक कठिनाइयों और आपके काम में बार-बार आने वाली बाधाओं से बचने में मदद मिलेगी। जब चंद्रमा अष्टम भाव में हो तो यह उपाय बहुत फायदेमंद होता है।

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *